ई-रिक्शा हटाने व अन्य मांगों को लेकर ऑटो-टेंपो चालकों का अनशन शुरू,17 तक अनशन 18 को चक्काजाम करेंगे

<p><span>ई-रिक्शा हटाने व अन्य मांगों को लेकर ऑटो-टेंपो चालकों का अनशन शुरू,17 तक अनशन 18 को चक्काजाम करेंगे</span></p>

शहर के मुख्य मार्गों से ई-रिक्शा हटाने, चालक-परिचालक कल्याण बोर्ड का पुनर्गठन कर बोर्ड का चेयरमैन श्रमिक प्रतिनिधि को बनाने सहित अन्य मांगें पूरी नहीं होने पर भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले टेंपो, ऑटो रिक्शा, लोडिंग वाहन और स्कूल वैन चालकों ने शुक्रवार से फूलबाग चौराहे पर आंदोलन शुरू कर दिया है। ग्वालियर टेंपो-टैक्सी चालक संघ अध्यक्ष उमाशंकर चौरसिया, सुभाष निगम और ओमप्रकाश राठौर अनशन पर बैठ गए हैं।

प्रशासन ने मुख्य मार्गों से ई- रिक्शा हटाने के बाद एक भी मांग पूरी नहीं की है, इसलिए अनशन शुरू कर दिया जो कि 17 सितंबर तक चलेगा। 18 से चक्काजाम और अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी।
भीमाचौहान, अध्यक्ष टेंपो-टैक्सी चालक संघ

यह हैं प्रमुख मांगें
ई-रिक्शा का संचालन शहर के मुख्य मार्गों पर प्रतिबंधित किया जाए। विक्रम टेंपो के रूट में जो बदलाव किया गया है, उसे रद्द किया जाए । उत्कृष्ट कार्य करने वाले सर्वश्रेष्ठ चालकों को सारथी पुरस्कार से सम्मानित करके 1 लाख रुपए नकद दिए जाएं। चालक-परिचालक बोर्ड का पुनर्गठन करके बोर्ड का चेयरमैन श्रमिक प्रतिनिधि को बनाया जाए । कोरोना काल में काटे गए कमर्शियल वाहनों के ई-चालान माफ किए जाएं। ऑटो चालकों से काटी जा रही अवैध पर्ची पर रोक लगाई जाए। टेंपो, ऑटो चालकों से की जाने वाली अवैध वसूली पर रोक लगाई जाए इनके अलावा अन्य मांगें भी शामिल हैं।